News

Very delayed work in construction of IT park (STPI) Agra

  • 31 मार्च तक एसटीपीआई (आईटी पार्क) बनने का दावा एक बार फिर फुस्स 
  • आईटी मंत्री के निर्देश के बावजूद भी नहीं बन पाया आईटी पार्क अभी तक
  • कम से कम 6 माह का समय और लग सकता है आईटी पार्क में
  • चेंबर के प्रतिनिधि मडल ने किया एसटीपीआई का दौरा 
  • श्री योगेंद्र उपाध्याय के आईटी मंत्री बनने से शीघ्र पूरी होने की उम्मीद जागी
  • आईटी सिटी का रास्ता भी खुला
दिनांक 29 मार्च 2022 को चेंबर अध्यक्ष मनीष अग्रवाल ने सबसे पहले सचिन सारस्वत,

Holi Milan Samaroh & Cultural Programme

  • चैंबर ने किया होली मिलन समारोह का आयोजन 
  • सांस्कृतिक कार्यक्रम का भी किया गया आयोजन 
  • 25 वर्ष से अधिक सदस्यता रखने वाले सदस्यों को किया गया सम्मानित 
  • उद्योग एवं व्यापार के हित में चेंबर द्वारा आयोजित गतिविधियों को दिखाया एलईडी पर 
  • सदस्यों ने एक दूसरे को होली की शुभकामनाएं एवं बधाइयां दी 
दिनांक 25 मार्च 2022 को शाम 5:30 बजे अग्रवन भवन में नेशनल चैंबर ऑफ इंडस्ट्रीज एंड कॉमर्स,

Election of National Chamber

  • चैम्बर का चुनाव हुआ संपन्न आज १४ मार्च २०२२ को   
  • श्री शलभ शर्मा बने आगामी सत्र के अध्यक्ष
  • सदस्यों द्वारा जताये गए विश्वास के लिए खरा उतरने हेतु हरसंभव करूँगा प्रयास 
  • उद्योग एवं व्यापार के हित में किये जा रहे प्रयासों को बढ़ाया जायेगा आगे – नव निर्वाचित अध्यक्ष शलभ शर्मा 
  • उपाध्यक्ष पद के लिए संजय गोयल एवं मयंक मित्तल हुए चयनित 
  • कोषाध्यक्ष पद के मनोज कुमार गुप्ता हुए चयनित 
नेशनल चैम्बर के संविधान के अनुसार पूर्व निर्धारित तिथि के अनुसार आज 14 मार्च 2022 को स्थान अग्रवन में प्रातः 10.30 बजे से नेशनल चैंबर ऑफ इंडस्ट्रीज एंड कॉमर्स,

Exporters Conclave 2022, Agra

  • एक्सपोर्टर्स कॉन्क्लेव आगरा का आयोजन
  • फियो  कानपुर एवं वाणिज्य एवं उद्योग विभाग, भारत सरकार के सहयोग से निर्यातक सम्मेलन 2022 का किया गया आयोजन
  • सुनहरा दिख रहा है निर्यात का भविष्य
  • 400 अरब अमेरिकी डॉलर के निर्यात लक्ष्य की दिशा में अग्रसर
  • निर्यात अवसरों का पता लगाने के लिए जरूरी है राज्यों के साथ मजबूत चुनाव
  • फर्निश्ड स्टॉलों पर उत्पादों का किया गया प्रदर्शन
दिनांक 23 फरवरी 2022 को होटल डबल ट्री बाय हिल्टन में सायं 5:00 बजे से आगरा कॉन्क्लेव का आयोजन फियो कानपुर एवं भारत सरकार के वाणिज्य एवं उद्योग विभाग के सहयोग से किया गया।  केंद्र सरकार भारत से निर्यात बढ़ाने पर जोर दे रही है और निर्यात में वृद्धि करने की दिशा में निर्यातकों की महत्वपूर्ण भूमिका है यह बात मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद भारत सरकार के सचिव टेक्सटाइल उपेंद्र प्रसाद सिंह ने अपने संबोधन में कही।
चेंबर अध्यक्ष मनीष अग्रवाल ने बताया कि पियो कानपुर द्वारा आगरा के निर्यात व्यापार को बढ़ाने में बहुत बड़ा योगदान है।  फियो कानपुर के द्वारा प्रतिवर्ष विदेश व्यापार को बढ़ावा देने के उद्देश्य एक या दो गतिविधियां आगरा में की जाती हैं।   इस हेतु हम फियो कानपुर के प्रति आभार प्रकट करते हैं। उनके द्वारा इस वर्ष आगरा कॉन्क्लेव का आयोजन किया गया. 

Objections & suggestions wrt Agra Master Plan 2031

  • मास्टर प्लान 2031 के संबंध में आपत्तियों एवं सुझावों के भेजने पर परिचर्चा
  • कागज पर सुनहरे सपने न देखकर धरातल पर कैसे उतरें उस पर किया जाए विचार 
  • मेट्रो को दिखाया ही नहीं है – हर कॉरिडोर पर पार्किंग फैसिलिटी होनी चाहिए 
  • यह केवल लैंड यूज़ प्लान (भू-उपयोग योजना) है – एक डेवलपमेंट प्लान होना चाहिए 
  • ट्रैफिक एंड ट्रांसपोर्ट प्लान नहीं है 
  • डेवलपिंग एरिया एवं डेवलप्ड एरिया को चिन्हित नहीं किया है 
  • कमर्शियल लैंड यूज़ को बढ़ाने की है जरुरत 
  • रिंग रोड का तीसरा चरण निर्माणाधीन है -एलाइनमेंट गलत दिखाया है और चौड़ाई भी गलत है 
  • मास्टर प्लान के प्राविधानों का बारीकी से अध्ययन है जरूरी 
  • आपत्तियां एवं सुझाव भेजने के लिए बढ़ाया जाये समय 
  • प्रयागराज,

Agra City Railway Station

  • सिटी स्टेशन को संरक्षित करने के लिए चेंबर निरंतर प्रयासरत 
  • स्टेशन पर विस्तृत जानकारी के साथ सूचना पट्ट लगाने की मांग 
  • सूचना पट्ट की मांग पर सीई/जी ने जताई असहमति – नहीं है पैसा
  • अपने पैसे से सूचना पट लगाने के लिए चेंबर तत्पर
  • रेलवे के चीफ इंजीनियर (जनरल) प्रयागराज जॉन को लिखा पत्र
चेंबर अध्यक्ष मनीष अग्रवाल ने बताया कि आगरा का  सिटी स्टेशन प्राचीनतम स्टेशनों में से एक है।  यह 118 साल पहले स्थापित हुआ था।  शहर के मध्य में होने से यह शहरवासियों के लिए रेल यात्रा के लिए बहुत ही सुगम है।  पूर्व में यहां से लगभग हर गंतव्य के लिए गाड़ियों का संचालन होता रहा है।  इस स्टेशन से आगरा शहर की स्मृतियां जुड़ी हुई है।  इस स्टेशन को हेरिटेज के रूप में सुरक्षित किया जाना आवश्यक है।  इस स्टेशन को संरक्षित करने के लिए चैंबर द्वारा लगातार प्रयास किए जा रहे हैं।  इस स्टेशन की इमारत को रखरखाव के साथ और अधिक बेहतरीन व सुंदर बनाने,

ADA Master Plan 2031

  • मास्टर प्लान 2031 में आगरा के पश्चिमी क्षेत्र को  किया गया है पूरी तरह से उपेक्षित
  • डेढ़ वर्ष में भी ड्राफ्ट नहीं बन सका है पूरी तरह से पारदर्शी 
  • शहर के चारों ओर बराबर विस्तारीकरण न होने से बिगड़ सकता है ट्रैफिक व् पर्यावरण का संतुलन 
  • शहर के एक भाग की  उपेक्षा से उस क्षेत्र में उपलब्ध बेहतरीन संसाधनों के उपयोग से वंचित रहेंगे शहरवासी 
  • शहर के पार्श्व में स्थित ग्रामों के साथ सौतेला व्यव्हार 
चेंबर अध्यक्ष मनीष अग्रवाल ने बताया कि एडीए का मास्टर प्लान 2031 एक लंबी प्रतीक्षा के बाद प्रकाशित किया गया फिर भी इसमें अधिकांश सूचनाएं आंकड़ों में ही दर्शाई  होने से बहुत अधिक स्पष्टता नहीं है।  आरपीएल (रुद्राभिषेक इंटरप्राइजेज प्राइवेट लिमिटेड ने आगरा (मेट्रो टाउन) जीआईएस (ज्योग्राफिकल इनफार्मेशन सिस्टम) आधारित महायोजना तैयार करने के लिए व्यापक पारदर्शी सेवाएं उपलब्ध कराने के लिए दिनांक 26.06.2019 को उत्तर प्रदेश सरकार की सम्यक सहमति से मुख्य नगर एवं ग्राम नियोजक एवं नगर एवं ग्राम नियोजन के साथ परामर्शदाता के रूप में करार पर हस्ताक्षर किये थे। अर्थात इस ड्राफ्ट मास्टर प्लान को तैयार करने में लगभग डेढ़ वर्ष का लगा है।
चैम्बर अध्यक्ष मनीष अग्रवाल ने आगे कहा कि मास्टर  प्लान 2031 में प्रकाशित आंकड़ों से यह पता लग रहा है कि इसमें आगरा के बाहर पूर्वी क्षेत्र में ही अधिक जोर दिया गया है।  आगरा के बाहर पश्चिमी क्षेत्र की पूरी तरह से उपेक्षा की गई है। कंसलटेंट कंपनी मै०  रुद्राभिषेक एंटरप्राइजेज प्राइवेट लिमिटेड  द्वारा मास्टर प्लान में यमुना एक्सप्रेसवे और आगरा एक्सप्रेसवे की ओर ही ध्यान केंद्रित किया गया है।  आगरा के पश्चिमी क्षेत्र में आगरा-मथुरा हाईवे एवं आगरा-जयपुर हाईवे की पूरी तरह से उपेक्षा की गई है।   नेशनल हाईवे संख्या 29 पर स्थित रुनकता तक पूर्व से ही शहरी क्षेत्र में माना जाता रहा है।
आगरा के पूर्वी क्षेत्र में (एत्मादपुर तहसील के) लगभग 22 गांव इस मास्टर प्लान में सम्मिलित किए गए हैं जबकि पश्चिमी क्षेत्र (किरावली तहसील) में केवल 7 गांव एवं खेरागढ़ में  मात्र 1 गांव सम्मिलित  किया गया है।
ज्ञातव्य हो कि यदि सुविधा की दृष्टि से देखा जाये तो सिक्स लेनी करण के बाद राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 29 का महत्व एक्सप्रेसवे जैसा ही हो गया है।  इसी मार्ग पर आगरा से 15 किलोमीटर दूर पश्चिम में न्यू दक्षिणी बायपास मार्ग (ग्वालियर हाईवे) के निर्माण होने से आगरा के पश्चिमी क्षेत्र में सभी राष्ट्रीय राजमार्ग एवं अन्य मार्ग भलीभांति जुड़ गए हैं।  सभी रेल मार्ग (अर्थात आगरा दिल्ली,

Survey on Traffic jam on Waterworks crossing carried by SP Traffic

  • वाटरवर्क्स चौराहे पर ट्रैफिक जाम की समस्या के स्थाई समाधान हेतु एसपी ट्रैफिक ने किया चेंबर के प्रतिनिधिमंडल के साथ स्थान का निरीक्षण।
  • चेंबर के द्वारा सुझाए गए स्थान पर बस स्टॉप बनाने पर रुचि दिखाई एसपी ट्रैफिक ने।  
  • चेंबर शेड  बनाने को तैयार। 
  • एसपी ट्रैफिक शीघ्र ही नगर निगम एवं रोडवेज के आरएम से बात कर कार्ययोजना को प्रदान करेंगे अंतिम रूप। 
दिनांक 27 जनवरी 2022 को एसपी ट्रैफिक अरुण चंद्र ने चेंबर के प्रतिनिधिमंडल के साथ वाटर वर्क्स चौराहे पर रोडवेज बसों द्वारा खड़ी कर सवारी भरने के कारण लगने वाले जाम की समस्या के स्थाई समाधान हेतु स्थान का निरीक्षण किया। चेंबर अध्यक्ष मनीष अग्रवाल ने बताया कि आगरा बाईपास (एनएच 29) पर ट्रांसपोर्ट नगर के सामने,

Celebration of 73rd Republic Day

  • चैम्बर ने मनाया 73वां गणतंत्र दिवस समारोह 
  • शहरवासियों को प्रेषित की गयी शुभकामनाएं एवं वधाईयां 
  • संविधान में दी गई है मताधिकार की आजादी 
  • आगामी चुनाव में मताधिकार का प्रयोग करें सोच समझकर 
  • राष्ट्रीयता एवं नागरिक सवेंदनशीलता का भी रखें ध्यान 
  • निजी स्वार्थ को छोड़कर, करें मत का प्रयोग
दिनांक 26 जनवरी 2022 को नेशनल चैंबर भवन में 73 वां गणतंत्र दिवस मनाया गया।  इस अवसर पर चेंबर अध्यक्ष मनीष अग्रवाल ने 73 वें गणतंत्र दिवस कि चेंबर के सभी सदस्यों एवं शहर वासियों को हार्दिक शुभकामनाएं देते हुए कहा कि हमारे लिए बहुत ही गर्व की बात है कि हमारे भारतीय संविधान को लागू हुए 72 वर्ष पूर्ण हो चुके हैं और अब हमें ७३वां गणतंत्र पर्व मनाते हुए बहुत ही खुशी हो रही है।  हमें ख़ुशी है कि विगत वर्षों में हमारे देश ने संवैधानिक एवं आर्थिक रूप से बहुत प्रगति की है और निरंतर प्रगति के मार्ग पर अग्रसर हो रहा है।  हम सभी जानते हैं कि इसी दिन सन 1950 को भारत सरकार अधिनियम (1935) को हटाकर भारत का संविधान लागू किया गया था।  एक स्वतंत्र गणराज्य बनने और देश में कानून का राज स्थापित करने के लिए संविधान को 26 नवंबर सन 1949 को भारतीय संविधान सभा द्वारा अपनाया गया और 26 जनवरी 1950 को इसे एक लोकतांत्रिक सरकार प्रणाली के साथ लागू किया गया था। इस आजादी के बाद हमारे देश ने बहुत प्रगति की है।
चेंबर के उपाध्यक्ष अनिल अग्रवाल,

Elevated road between Sultanganj and Water Works Xing

  • एलिवेटेड रोड बनाने हेतु चैम्बर की मांग पर लिया संज्ञान 
  • कंपनी के टीम लीडर को जांच करने, कमैंट्स /ओपिनियन भेजने को दिए निर्देश
चेंबर अध्यक्ष मनीष अग्रवाल ने बताया कि दिनांक 31 दिसंबर 2021 को नेशनल चैंबर द्वारा भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के चेयरमैन महोदय को एक पत्र लिखकर सुल्तानगंज सेवाटरवर्क्स चौराहा  तक एलिवेटेड रोड बनाए जाने की मांग की थी।  चेंबर के पत्र पर शीघ्र संज्ञान लेते हुए परियोजना निदेशक,